HD: दब्लुयु. पी. आई की कुर्दिस्तान कमेटी, कोमेलेह को अपना समर्थन देने के लिए गुरुवार १३ मई को हड़ताल बुला रही है|

दब्लुयु. पी. आई की कुर्दिस्तान कमेटी, कोमेलेह को अपना समर्थन देने के लिए गुरुवार १३ मई को हड़ताल बुला रही है|

१० मई २०१०

१३ मई को हड़ताल का एलान

रविवार ९ मई को ईरान के इस्लामी गणराज्य ने एक और घिनोना अपराध किया और पांच राजनीतिक कैदियों का वध किया: फर्ज़ाद कमंगर, शीरीं आलम हूली, मेहदी होसीनियन, फरहद वकिली और अली हेइदारियन| यह अपराधी जो इरान के तख़्त पर बेठे है, पिछले ३१ सालों से हत्या और फंसी को तलवार बना के जनता के वीरुध इस्तमाल कर रहे है| हज़ारों प्यारी जानो को मारा गया है क्यूँकी उन्होने अपने अधिकार मांगे ताकी इस भयावक और पिछड़ी शासन और इस के शोषण, चोरी और दमन से छूटकर मिले| हमे इन अपराधो का विरोध करना है और इस हुकूमत के हाथो हत्याओं को रोकना है|

इस अपराध के खिलाफ, कोमेलेह (ईरान की ਸਮਾਜਵਾਦੀ पार्टी के कुर्दिस्तान संगठन) ने गुरुवार, १३ मई को आम हड़ताल के लिए कुर्दिस्तान के लोगों को एह्ल्लान जारी की है|
इरान की समाजवादी पार्टी ने हड़ताल के एह्ल्लान का समर्थन कीया है| हम बुला रहे हैं कुर्दिस्तान के लोगों, कार्यकर्ताओं, और विश्वविद्यालय के छात्रों, शिक्षकों और स्कूल के छात्रों, दुकानदार, और समाज सेवकों को के एस शाशन के घिनोने अपराधो के वीरुध और इन प्रियजनओं की यादगार और सम्मान के लिए स्कोलों, कारखानों, कार्यशालाओं, स्कूलों और विश्वविद्यालयों, कार्यालयों और दुकानों में सयुक्त बंध करे|

एक व्यापक और सफल आम हड़ताल हमारे संघर्ष की निरंतरता में एक महत्वपूर्ण स्थान बनाता है, हमारी सहानुभूति और एकता को मजबूत बनाता है, और आयोजन और भयावह इस्लामी शासन के वीरुध युद्ध के समापन के लिए तैयारी कराता हैं| हाल के महीनों में, इरान के लाखो लोगों ने, कई मायनों में, उनकी घृणा, शाषण को दफनाने और इस सरकार के विरोध प्रदर्शन किया है| जहाँ यह सरकार कई संकटों से संघर्ष कर रही है इस हड़ताल की सफलता राजनीतिक सत्ता के संतुलन को मजबूत बनाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम होगा और सरककर के अपराधो का कडा जवाब होगा||

स्वतंत्रता की मांग करने वाले कुर्दिस्तान के लोगों:
इस हड़ताल के समर्थन में एकजुट हो के और हिसा लेके हम इस अपराधी इस्लामी हुकूमत को ज़बरदस्त जवाब दीजेये| हम अपने प्रियजनों को जेलों में अकेला नहीं छोड़ सकते| प्रियजनों के फंसी के वीरुध, जीनोने अपनी जाने गवई क्योंकी वोह सरकार के विरुद्ध थे और अलग सोच रखते थे, इन के लिये हमे ज़बरदस्त प्रदर्शन करना हैं| आप निष्पादन के विरोध में इस व्यापक और युगपत हड़ताल द्वारा राजनीतिक कैदियों की बिना शर्त रिहाई की मांग करे, और कैदियों के खिलाफ किसी भी प्रकार के दबाव के प्रयोग का विरूद्ध करे| स्वतंत्रता मांगने वाले लाखों इरानियन लोगों हमारी हड़ताल को खुशी के साथ स्वागत करेगे और इस्लामी गणराज्य को गिराए जाने के लिए एक नया माहौल पैदा करेगे|

नीचे होआ ईरान इस्लामी गणराज्य
इरान की आज़ादी मांगने वाले क्रन्तिकारो की विजय

ईरान की समाजवादी पार्टी की कुर्दिस्तान समिति
१० मई २०१०

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 118 other followers

via Twitter

  • RT @AymanM: In all of my years covering wars and authoritarian leaders around the world and even with their disdain for a free media, I hav… 15 hours ago
  • Voting early with an absentee ballot and putting the ballot in an ballot drop box. Before you vote, consider readin… twitter.com/i/web/status/1… 15 hours ago
  • RT @AriBerman: It’s truly shocking that 4 of 5 conservative justices on Supreme Court (Roberts, Alito, Gorsuch & Kavanaugh) were nominated… 1 day ago
  • RT @AriBerman: "At the heart of DeJoy’s & the Postal Service’s actions is voter disenfranchisement," federal judge writes in ruling reversi… 2 days ago
  • RT @centredaily: Anyone with information about the whereabouts of Malcolm Anderson, who was last seen in Clearfield County and in the vicin… 1 week ago
%d bloggers like this: